‘तूने मुझे बुलाया शेरा वालिये’ भजन सिंगर नरेंद्र चंचल का निधन, इन फेमस बॉलीवुड गानों और भजनोंको दे चुके है अपनी आवाज, सुनिए उनका कोरोना भजन वीडियो

नरेंद्र चंचल मातारानी की भेंट गाए जाने को लेकर काफी फेमस थे। लोग उनके भजन को काफी पसंद करते थे।

'तूने मुझे बुलाया शेरा वालिये' भजन सिंगर नरेंद्र चंचल का निधन, इन फेमस बॉलीवुड गानों और भजनोंको दे चुके है अपनी आवाज, सुनिए उनका कोरोना भजन वीडियो
'तूने मुझे बुलाया शेरा वालिये' भजन सिंगर नरेंद्र चंचल का निधन, इन फेमस बॉलीवुड गानों और भजनोंको दे चुके है अपनी आवाज, सुनिए उनका कोरोना भजन वीडियो
  • भजन सिंगर नरेंद्र चंचल का निधन
  • इन फेमस बॉलीवुड गानों और भजनोंको दे चुके है अपनी आवाज
  • मशहूर भजन गायक नरेंद्र चंचल का आज 22 जनवरी को 80 साल की उम्र में दुनिया को अलविदा कर गए।

(Shradha Upadhyay), Narendra Chanchal: मशहूर भजन गायक नरेंद्र चंचल (Narendra Chanchal ) का आज 22 जनवरी को 80 साल की उम्र में दुनिया को अलविदा कर गए। नरेंद्र चंचल मातारानी की भेंट गाए जाने को लेकर काफी फेमस थे। लोग उनके भजन को काफी पसंद करते थे। और आज भी उनके करोडो फैंस उनके भजन के दीवाने है। माता रानी के जगरातों में अपनी आवाज से भक्तों को अपन दीवाना बना देने वाले नरेंद्र जी ने आज अपनी अंतिम सांसे ली।

बताया जा रहा है कि नरेंद्र चंचल जी का दिल्ली के अपोलो अस्पताल में लंबे समय से इलाज चल रहा था। वो पिछले 3 महीने से बीमार चल रहे थे। जानकारी के अनुसार आज दोपहर 12.15 बजे अपोलो अस्पताल में ही उनका निधन हुआ है। वही उनकी मौत की खबर सामने आने के बाद सोशल मीडिया पर शोक की लहर दौड़ गई। और कई मशहूर हस्तियों और उनके चाहने वालों ने ट्विटर पर श्रद्धांजलि देते हुए दुःख जताया।

इन लोगो ने जताया ट्विटर पर शोक

ट्विटर पर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, दिग्गज गायिका लता मंगेशकर और दलेर मेहंदी समेत तमाम सेलेब्रिटीज ने शोक व्यक्त किया है। वही पीएम मोदी ने अपने ट्वीट में लिखा, “लोकप्रिय भजन गायक नरेंद्र चंचल जी के निधन के समाचार से अत्यंत दुख हुआ है. उन्होंने भजन गायन की दुनिया में अपनी ओजपूर्ण आवाज से विशिष्ट पहचान बनाई. शोक की इस घड़ी में मेरी संवेदनाएं उनके परिजनों और प्रशंसकों के साथ हैं. ओम् शांति.”

साथ ही फेमस गायिका लता मंगेशकर जी ने ट्वीट कर लिखा – “मुझे अभी पता चला कि बहुत गुणी गायक, मातारानी के भक्त नरेंद्र चंचल जी का आज स्वर्गवास हुआ. ये सुनके मुझे बहुत दुख हुआ.वो बहुत अच्छे इंसान थे, ईश्वर उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें. मैं उनको विनम्र श्रद्धांजली अर्पण करती हूं.”

वही पंजाबी पॉप सिंगर दलेर मेहंदी ने ट्वीट कर कहा, “दिल को बहुत दुख हुआ कि आइकॉनिक और लोकप्रिय सिंगर नरेंद्र चंचल जी इस दुनिया को छोड़कर विदा हो गए. उनकी आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना करता हूं. उनके परिवार और फैन्स को मेरी सांत्वनाएं.”

दिग्गज क्रिकेटर हरभजन सिंह ने भी ट्वीट किया, “नरेंद्र चंचल जी के परलोक सिधार जाने की खबर सुनकर बहुत आहत हूं. ईश्वर उनकी आत्मा को शांति दे.”

कोरोना वीडियो सांग भजन

बता दें कि मार्च 2020 में नरेंद्र चंचल का एक वीडियो वायरल हो हुआ था. इसमें वे मां दुर्गा का एक भजन गाते दिखे थे. इसमें उन्होंने कोरोना का भी जिक्र भी किया था। इस गाने को नरेंद्र जी ने एक माता के जगराते के दौरान गया था। जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल भी हुआ था। इस गाने के बोल थे कि डेंगू भी आया और स्वाइन फ्लू भी आया, चिकन गोनिया ने शोर मचाया, कित्थे आया कोरोना?

फेमस बॉलीवुड गाने और भजन

नरेंद्र चंचल जी भजन के अलावा कई मशहूर बॉलीवुड भजन को भी अपनी आवाज दे चुके है। वही नरेंद्र चंचल को बेस्ट मेल प्लेबैक सिंगर का फिल्मफेयर अवॉर्ड भी मिल चुका है। वही नरेंद्र चंचल को बेस्ट मेल प्लेबैक सिंगर का फिल्मफेयर अवॉर्ड भी मिल चुका है। साथ ही उन्होंने राज कपूर की फिल्म बॉबी में ‘बेशक मंदिर मस्जिद तोड़ो’ गाना गाया. इस गाने से उन्हें पहचान मिली. इसके बाद नरेंद्र ने 1974 में बेनाम फिल्म में ‘मैं बेनाम हो गया’ सॉन्ग गाया. 1974 में ही उन्होंने रोटी कपड़ा और मकान में ‘बाकी कुछ बचा तो महंगाई मार गई’ गाने को अपनी बेहतरीन आवाज दी। वही फिल्म ‘आशा’ 1980, में तूने मुझे बुलाया सॉन्ग गाया, जो काफी हिट हुआ था.

इसके बाद 1983 में फिल्म अवतार के लिए उन्होंने भजन ‘चलो बुलावा आया है’ गाया. ये गाना शबाना आजमी और राजेश खन्ना पर फिल्माया गया था। वही उनके फेमस भजन ‘चलो बुलावा आया है’ साथ ही ‘ओ जंगल के राजा मेरी मैया को लेके आजा’ उनका ये भजन आज तक जगरातों में गाया जाता है। इसके साथ ही नवरात्रो में गया जाने वाला भजन ‘प्यारा सजा है तेरा द्वारा भवानी’ इसी तरह के और अन्य भजन के लिए नरेंद्र जी जाने जाते है।

आपको बता दें नरेंद्र चंचल का जन्म 16 अक्टूबर 1940 को अमृतसर के नमक हांडी में एक पंजाबी परिवार में हुआ था। वही नरेंद्र जी की माँ भी भजनो को गाया करती थी। और उन्हीं को देखकर इनकी भी भजन के प्रति रूचि बढ़ी। उन्होंने अपनी माता को गुरु मानकर भजन गाने शुरू किये। इसके बाद चंचल ने प्रेम त्रिखा से संगीत सीखा। नरेंद्र चंचल ने मिडनाइट सिंगर नामक एक बायोग्राफी भी जारी की, जो उनके जीवन, संघर्षों और कठिनाइयों को बताती है।

वही इनकी एक ‘Midnight Singer’ नाम की बायोग्राफी भी लांच हुई थी। जिसमे इन्होने अपने जीवन, संघर्षों और कठिनाइयों के पूरे सफर को प्रस्तुत किया था। बता दें नरेंद्र चंचल हर साल 29 दिसंबर को वैष्णों देवी भी जरूर जाया करते थे, और वहां जाकर वे कार्यक्रम भी करते थे। लेकिन इस साल वे नहीं जा सके। 1944 से लगातार हर साल माता वैष्णो देवी के दरबार में आयोजित होने वाली वार्षिक जागरण में जा रहे थे ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here