मिजोरम में 39 पत्नी, 94 बच्चे और 33 नाती-पोते वाले इस शख्स से जुडी ये दुखद खबर आई , जानिए

दुनिया में अनेकों तरह के अजीब लोग है। और अपनी इसी अजीबोगरीब चीज़ो के चलते ये लोग फेमस भी हो जाते है। उनमे से मिजोरम के एक शख्स है

मिजोरम में 39 पत्नी, 94 बच्चे और 33 नाती-पोते वाले इस शख्स से जुडी ये दुखद खबर आई , जानिए
मिजोरम में 39 पत्नी, 94 बच्चे और 33 नाती-पोते वाले इस शख्स से जुडी ये दुखद खबर आई , जानिए

(श्रद्धा उपाध्याय), नई दिल्ली: दुनिया में अनेकों तरह के अजीब लोग है। और अपनी इसी अजीबोगरीब चीज़ो के चलते ये लोग फेमस भी हो जाते है। उनमे से मिजोरम के एक शख्स है जियोना चाना। जियोना चाना के 39 पत्नी, 94 बच्चे और 33 नाती-पोते है। और तो और इनके अजीब परिवार को देखने दुनियाभर के टूरिस्टों का हुजूम लगा रहता है। क्यूंकि ऐसे बड़े परिवार को देखना अपने आप में दिलचस्पी वाली बात है। इसी बीच आज जियोना चाना से जुडी एक बुरी खबर सामने आई है।

बता दें 76 साल के जियोना चाना का आज निधन हो गया है। जिसके बाद उनके निधन पर मिजोरम के मुख्यमंत्री जोरमथांगा ने ट्वीट के जरिये उन्हें श्रद्धांजलि दी है। ट्वीट करते हुए उन्होंने लिखा-’39 पत्नियों और 94 बच्चों के साथ दुनिया के सबसे बड़े परिवार के मुखिया माने जाने वाले श्री जियोन-ए (76) को मिजोरम ने भारी मन से विदाई दी। मिजोरम और उनका गांव बक्तावंग तलंगनुम गांव परिवार के कारण राज्य में एक प्रमुख पर्यटक आकर्षण बन गया है।’

जियोना के परिवार की खासियत
आज इस दौर में जहां संयुक्त परिवार का रिवाज खत्म होता जा रहा है, वहां जियोना ने अपने इस विशाल परिवार को बनाकर एक मिशाल कायम की थी। साथ ही अपने इस परिवार को उन्होंने पर्यटकों का एक आकर्षण बना लिया था। जियोना चाना अपने बेटों के साथ मिलकर बढ़ई का काम करते थे। जियोना के परिवार में 181 सदस्य थे। उनके मकान में करीब 100 कमरे है। जिओना की सबसे बड़ी पत्नी परिवार की मुखिया हैं और वे ही घर के सभी सदस्यों के कार्यों का बंटवारा करती हैं। इतने सदस्यों के बीच राशन भी बहुत लगता है। एक दिन में 45 किलो से ज्यादा चावल, 30-40 मुर्गे, 25 किलो दाल, दर्जनों अंडे, 60 किलो सब्जियों और 20 किलो फल खाये जाते है। परिवार ने बताया की इतना बड़ा परिवार होने पर भी सब खुश रहते है और मिलजुलकर काम करते है।

आपको बता दें जियोना चाना के परिवार का नाम गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड में शामिल है। एक साथ एक ही परिवार में इतने सारे वोट होने की वजह से तमाम नेता और इलाके की राजनीतिक पार्टियां इनको महत्व देती हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here