राकेश टिकैत का बयान – “सरकार किसानों को फंसा रही है, जारी रहेगा धरना प्रदर्शन, नहीं दूंगा गिरफ्तारी, जबरदस्ती करने पर लगा लूंगा फांसी”

राजधानी में किसानों की ट्रैक्टर रैली की आड़ में हुई हिंसा के बाद किसान नेता राकेश टिकैत पर सीधा निशाना साधा जा रहा है। किसान नेता राकेश टिकैत का एक वीडियो वायरल होने के बाद उनको हिंसा भड़काने का आरोप लगाया गया।

राकेश टिकैत का बयान – “सरकार किसानों को फंसा रही है, जारी रहेगा धरना प्रदर्शन, नहीं दूंगा गिरफ्तारी, जबरदस्ती करने पर लगा लूंगा फांसी”
राकेश टिकैत का बयान – “सरकार किसानों को फंसा रही है, जारी रहेगा धरना प्रदर्शन, नहीं दूंगा गिरफ्तारी, जबरदस्ती करने पर लगा लूंगा फांसी”
  • राकेश टिकैत ने जारी किया बयान
  • राकेश टिकैत ने कहा ‘सरकार किसानों को फंसा रही है’
  • जारी रहेगा धरना प्रदर्शन: राकेश टिकैत

(श्रद्धा उपाध्याय), राकेश टिकैत: राजधानी में किसानों की ट्रैक्टर रैली की आड़ में हुई हिंसा के बाद किसान नेता राकेश टिकैत पर सीधा निशाना साधा जा रहा है। किसान नेता राकेश टिकैत का एक वीडियो वायरल होने के बाद उनको हिंसा भड़काने का आरोप लगाया गया। जिसके बाद उनपर FIR दर्ज हुई है। वही दिल्ली पुलिस ने गुरुवार को उन्हें नोटिस भी भेजा और तीन दिन में जवाब मांगा है। अब इसी बीच यूपी सरकार ने किसानों से सभी बॉर्डर खाली करने को बोल दिया है। जिसके बाद गाजीपुर बॉर्डर पर राकेश टिकैत ने किसानो को सम्बोधित करते हुए दिल्ली हिंसा का जिम्मेदार सरकार और प्रशासन को ठहराया है। राकेश टिकैत ने कहा कि प्रशासन ने किसानों को अपनी जाल में फंसाया। साथ ही हिंसा से आंदोलन को तोड़ने की साजिश रची गई है।

राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) का बयान

वही राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) ने कहा कि – दिल्ली में हुई हिंसा और ट्रैक्टर घुमाने से लेकर लाल किले पर झंडा लगाने वाली घटना से हमारा कोई संबंध नहीं है। गाजीपुर बॉर्डर पर राकेश टिकैत ने कहा कि वह गिरफ्तारी देना चाहते थे, लेकिन बीजेपी के विधायकों ने हमारे लोगों के साथ मारपीट की है। हमारे लोगों को रास्ते में पीटने की प्लानिंग है। आगे राकेश टिकैत कहते है कि अब हम यहां से नहीं जाएंगे. यहीं बैठेंगे. मैं गोली खाने को तैयार हूं. और न ही अब मैं गिरफ्तारी दूंगा। साथ ही अगर पुलिस हमसे जबरदस्ती करती है तो मै यही फांसी लगा लूंगा। इसके अलावा राकेश टिकैत ने कहा, ‘हमारा खाना-पानी बंद कर दिया गया है. मैं गाज़ियाबाद का न खाना खाऊंगा और न पानी पीऊंगा, गांव से टैंकर में पानी आने पर ही पीऊंगा.’

आपको बता दें इसी के साथ गाजीपुर बॉर्डर पर भारी पुलिसबल और RAF की तैनाती कर दी गई है। इसके साथ ही ग़ज़िआबाद के कुछ इलाकों में धारा 144 लागू कर दी गई है। किसी भी वक़्त अब वह किसानो और राकेश टिकैत की गिरफ्तारी हो सकती है। ऐसी आशंका जताई जा रही है। पुलिस किसी भी वक़्त कुछ ठोस कदम उठा सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here