पेगासस जासूसी मामले पर राहुल गांधी का मोदी सरकार पर हमला, पत्रकारों को दिया ये तीखा जवाब, कहा -“मैं जानता हूं आप किसके लिए काम करते हो

पेगासस जासूसी मामले को लेकर विपक्ष एकजुट होकर केंद्र सरकार को घेरने का पूरा प्लान तैयार करता नजर आ रहा है। इसी बीच बुधवार को बुधवार को कांग्रेस पार्टी सहित सभी प्रमुख विपक्षी दलों के नेता एक साथ सामने आए।

पेगासस जासूसी मामले पर राहुल गांधी का मोदी सरकार पर हमला, पत्रकारों को दिया ये तीखा जवाब, कहा -
पेगासस जासूसी मामले पर राहुल गांधी का मोदी सरकार पर हमला, पत्रकारों को दिया ये तीखा जवाब, कहा -"मैं जानता हूं आप किसके लिए काम करते हो

(श्रद्धा उपाध्याय), नई दिल्ली: पेगासस जासूसी मामले को लेकर विपक्ष एकजुट होकर केंद्र सरकार को घेरने का पूरा प्लान तैयार करता नजर आ रहा है। इसी बीच बुधवार को बुधवार को कांग्रेस पार्टी सहित सभी प्रमुख विपक्षी दलों के नेता एक साथ सामने आए। साथ ही पेगासस मुद्दे को लेकर कांग्रेस सांसद राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने मोदी सरकार पर हमला बोला। इस बीच राहुल गाँधी समेत अन्य नेता मीडिया के सामने मुखातिब हुए। राहुल गाँधी ने इस दौरान पत्रकारों के सवालों का करारा जवाब दिया।

बता दें राहुल गाँधी ने मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए कहा – हम पेगासस पर चर्चा से पहले पीछे नहीं हटने वाले है। इस दौरान पत्रकार ने राहुल गाँधी से सवाल किया – “पैगसस के मुद्दे पर सरकार के मंत्री अश्विनी वैष्णव जब जवाब देते हैं तो टीएमसी के सांसद उनका पर्चा फाड़ देते हैं, तो फिर चर्चा कैसे होगी?” इसका राहुल गाँधी ने तीखा जवाब दिया और कहा -“मैं जानता हूँ आप लोग किसके लिए काम करते है, आप मुझे डिस्ट्रैक्ट मत कीजिये, जनता ये भलीभांति जानती है कि भारत के लोकतंत्र पर आक्रमण हुआ है”

इसके आगे राहुल गाँधी ने ये भी कहा कि उनकी आवाज को संसद में दबाया जा रहा है। हमारा एक सवाल है कि गासस सॉफ्टवेयर खरीदा गया या नहीं और क्‍या इसका उपयोग भारत कुछ लोगों के खिलाफ किया गया? हम ये सब बातें जानना चाहते है। लेकिन सरकार हमसे इस विषय पर चर्चा नहीं करना चाहती है। सरकार का कहना है कि हम संसद में बाधा डाल रहे है।

अपनी बात पूरी करते हुए राहुल गाँधी ने कहा – पेगासस मुद्दा, राजद्रोह जैसा है, यह देशविरोधी है जिसके जिम्मेदार मोदी ओर अमित शाह है। सरकार को इस हथियार का प्रयोग आतंकवादियों और देशद्रोहियों के खिलाफ करना चाहिए। जबकि सरकार इसे लोकतंत्र के खिलाफ कर रही है। और हम सरकार से इसी सवाल का जवाब मांगते है। सरकार ने जो कुछ भी किया है वो जरूर देश के लिए खराब है वरना सरकार हमसे आगे आकर जरूर बात करती।

राहुल गाँधी ने हिंदुस्तान के युवाओं से कहा “मैं युवाओं से पूछना चाहता हूं कि आपके फोन के अंदर नरेंद्र मोदी जी ने एक हथियार डाला है। और उसका प्रयोग मेरे, सुप्रीम कोर्ट के और अन्य नेताओ के, प्रेस के, एक्टिविस्ट के खिलाफ प्रयोग किया गया है। और लोकतंत्र के खिलाफ प्रयोग किये गए इस हथियार का प्रयोग करना गलत है। यह निजता का नहीं राष्ट्र का मामला है। और हम सरकार से इसका जवाब लिए बिना पीछे नहीं हटने वाले है।

आपको बता दें आज बुधवार को कांग्रेस समेत 14 विपक्षी दलों के नेताओं ने पेगासस जासूसी प्रकरण और अन्य मुद्दों पर संसद के मौजूदा मानसून सत्र के दौरान सरकार को घेरने एवं दबाव बनाने की रणनीति पर चर्चा की। यह बैठक मल्लिकार्जुन खड़गे के संसद भवन स्थित कक्ष में आयोजित हुई। इस बैठक में राहुल गाँधी समेत शिवसेना के संजय राउत, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के प्रफुल्ल पटेल, द्रमुक के टीआर बालू और अन्य दलों के नेता मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here