राहुल गांधी ने कहा, सेना तैयार, लेकिन PM मोदी ने चीन के सामने टेके घुटने

भारत-चीन के बीच सीमा पर समय से चल रहे विवाद का अब अंत होता नजर आ रहा है। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह (Defense Minister Rajnath Singh) ने गुरुवार को राज्यसभा में दोनों देशों की सेनाओं के पीछे हटने की बात कही।

राहुल गांधी ने कहा, सेना तैयार, लेकिन PM मोदी ने चीन के सामने टेके घुटने
राहुल गांधी ने कहा, सेना तैयार, लेकिन PM मोदी ने चीन के सामने टेके घुटने (ANI)

Rahul Gandhi on India China: भारत-चीन के बीच सीमा पर समय से चल रहे विवाद का अब अंत होता नजर आ रहा है। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह (Defense Minister Rajnath Singh) ने गुरुवार को राज्यसभा में दोनों देशों की सेनाओं के पीछे हटने की बात कही। और उन्होंने बताया कि पैंगॉन्ग पर चीन से समझौता है, दोनों देशों की सेनाएं वहां से हट रही हैं. लेकिन इस पूरे मामले पर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने शुक्रवार की सुबह यानि आज एक प्रेस कांफ्रेंस कर कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने हिंदुस्तान की जमीन चीन को पकड़ाई है

अब इस मुद्दे पर राजनीति गरमा गई है। राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने अपनी प्रेस कांफ्रेंस में कहा, मोदी जी इसका जवाब दें. मोदी जी ने चीन के सामने सिर झुका दिया है, जो रणनीतिक क्षेत्र है जहां चीन अंदर आकर बैठा है उसके बारे में रक्षा मंत्री ने एक शब्द नहीं बोला. इसके साथ ही राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) पर भारत की जमीन चीन को देने का आरोप लगाते हुए कहा, कि देश के सशस्त्र बल तैयार हैं, लेकिन प्रधानमंत्री पड़ोसी राष्ट्र का सामना करने के लिए तैयार नहीं हैं।

राहुल गांधी ने आगे कहा, ‘मोदी ने भारतीय क्षेत्र को चीन को क्यों दिया? इसका जवाब उन्हें और रक्षा मंत्री को देना चाहिए। क्यों सेना को कैलाश रेंज से पीछे हटने को कहा गया? देपसांग प्लेन्स से चीन वापस क्यों नहीं गया? हमारी जमीन फिंगर-4 तक है। मोदी ने फिंगर-3 से फिंगर-4 की जमीन चीन को पकड़ा दी है’

कांग्रेस नेता ने आगे कहा कि, ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हिंदुस्तान की जमीन चीन को पकड़ाई है यह सच्चाई है। मोदी जी इसका जवाब दें। मोदी जी ने चीन के सामने सिर झुका दिया है। जो रणनीतिक क्षेत्र है जहां चीन अंदर आकर बैठा है उसके बारे में रक्षा मंत्री ने एक शब्द नहीं बोला’

बता दें कि रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Defense Minister Rajnath Singh) ने राज्यसभा में गुरुवार कहा कि सरकार भारत की भूमि की सुरक्षा के लिए प्रतिबद्ध है। और दोनों देशों की सेनाओं के पीछे हटने की बात कही। और उन्होंने बताया कि पैंगॉन्ग पर चीन से समझौता है, दोनों देशों की सेनाएं वहां से हट रही हैं. चीन से हमारी लगातार बातचीत के बाद के कारण हम पैंगोंग सो झील के उत्तरी और दक्षिण किनारे से हम सहमति के इस बिंदु तक पहुंचे हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here