महाराष्ट्र में 12 बच्चों को पोलियो ड्रॉप की जगह हैंड सैनिटाइज़र दिया गया।

महाराष्ट्र के राजधानी मुंबई से लगभग 700 किलोमीटर दूर महाराष्ट्र के यवतमाल जिले के एक गाँव में पोलियो ड्रॉप वैक्सीनेशन में घोर लापरवाही सामने आई है.

महाराष्ट्र में 12 बच्चों को पोलियो ड्रॉप की जगह हैंड सैनिटाइज़र दिया गया।
महाराष्ट्र में 12 बच्चों को पोलियो ड्रॉप की जगह हैंड सैनिटाइज़र दिया गया।

महाराष्ट्र: महाराष्ट्र के राजधानी मुंबई से लगभग 700 किलोमीटर दूर महाराष्ट्र के यवतमाल जिले के एक गाँव में पोलियो ड्रॉप वैक्सीनेशन में घोर लापरवाही सामने आई है. दरसल, यहां पर पांच साल से कम उम्र वाले 12 बच्चों सोमवार को उन्हें पोलियो ड्रॉप की जगह हैंड सैनिटाइज़र पिला दिया गया. तब पांच साल से कम उम्र वाले 12 बच्चों को अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा, इस बात की जानकारी महाराष्ट्र के यवतमाल जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्रीकृष्णा पांचाल ने दी.

जिला अधिकारी श्रीकृष्णा पांचाल ने कहा कि ‘5 साल से कम उम्र के 12 बच्चों को पोलियो ड्रॉप की जगह सैनिटाइज़र  दिया गया। 5 साल से कम उम्र के प्रभावित बच्चों को सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां उनकी हालत स्थिर बताई जा रही है। इस घटना से जुड़े तीन कर्मचारियों- एक स्वास्थ्यकर्मी, एक डॉक्टर और एक आशा वर्कर को निलंबित किया जाएगा’

श्रीकृष्णा पांचाल ने कहा कि ‘रविवार को इस घटना की सूचना एक गांव में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र से दी गई, जब 1-5 साल की उम्र के बच्चों के लिए राष्ट्रीय पोलियो ड्रॉप टीकाकरण अभियान शुरू हुआ। इस मामले की जांच चल रही है.’ यह घटना तब सामने आई है, जब राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (Ram Nath kovind) ने 30 जनवरी को राष्ट्रपति भवन में पांच साल से कम उम्र के बच्चों के लिए साल 2021 में नेशनल पोलियो इम्यूनाइज़ेशन ड्राइव लॉन्च किया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here