आम बजट 2021: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने जारी किया 2021-22 का बजट, जानिए किन सेक्टर्स पर पड़ी महंगाई की मार और किसे मिला फायदा?

आज केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने वर्ष 2021-22 का बजट पेश कर दिया है। कोरोना काल में हुए नुकसान के बाद इस बजट को पेश करना काफी जटिल था।

आम बजट 2021: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने जारी किया 2021-22 का बजट, जानिए किन सेक्टर्स पर पड़ी महंगाई की मार और किसे मिला फायदा?
आम बजट 2021: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने जारी किया 2021-22 का बजट, जानिए किन सेक्टर्स पर पड़ी महंगाई की मार और किसे मिला फायदा?
  • वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने जारी किया 2021-22 का बजट (Budget 2021)
  • जानिए किन सेक्टर्स पर पड़ी महंगाई की मार और किसे मिला फायदा? (Budget 2021)

(श्रद्धा उपाध्याय), Budget 2021: आज केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने वर्ष 2021-22 का बजट पेश कर दिया है। कोरोना काल में हुए नुकसान के बाद इस बजट को पेश करना काफी जटिल था। साथ ही देश की GDP भी दो बार माइनस में गई। वही वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने भी बताया कि – इस बजट को काफी हालातों में पेश किया गया है। वित्त वर्ष 2021-22 के लिए पेश बजट में किसी बजट को काफी फायदा मिला है तो किसी वर्ग में निराशा हाथ लगी है। वही इस बार के बजट में खास बात ये है कि इस साल का बजट एकदम पेपरलेस है। यानि इस बार बजट में किसी तरह के कागजो और दस्तावेजों का इस्तेमाल नहीं हुआ है। इसे किसी भी कागज पर प्रिंट नहीं करते हुए टैबलेट से पढ़कर जारी किया गया है। वही आम बजट पेश करते वक़्त सत्ता पक्ष भी दूसरी कतार में मौजूद रहा। तो आइये जानते है वर्ष 2021 के लिए पेश हुए इस आम बजट के महत्वपूर्ण बिंदु :-

Budget 2021 Highlights:- Here’s your 10-point to Budget 2021:

2021 बजट से कॉरपोरेट बजट को काफी फायदा मिला है।
आम जनता को इस बार इस बजट में कोई फायदा नहीं मिला है। यानि उनको निराशा हाथ लगी है।
जहां 80 सी में काफी बदलाव की उम्मीद की जा रही थी। लेकिन यहां भी किसी तरह का कोई परिवर्तन नहीं हुआ।
छोटे निवेशकों को राहत देने के लिए कुछ ऐलान किये गए हैं।
इनकम टैक्स सेक्टर में केवल एक ही फायदा नजर आया है। वो ये है की 75 वर्ष से अधिक आयु के व्यक्तियों को अब इनकम टैक्स रिटर्न भरने की आवश्यकता नहीं है। और यह केवल उन लोगो के लिए होगा जिनकी केवल पेंशन और ब्याज से इनकम होती है।
वही मौजूदा टैक्स सलैब में कोई बदलाव नहीं किया गया है।
किसी बैंक के डूबने पर जमाकर्ताओं को समय और आसानी से पैसा वापस मिल जाए। इसके लिए संशोध‍ित व्यवस्था बनाई जाएगी।
गिग और प्लेटफॉर्म वर्कर्स को भी कर्मचारी राज्य बीमा निगम (ESI) के अंतर्गत लाया जाएगा। यानि कि फ्रीलांस वर्क करने वाले और ई-कॉमर्स कंपनियों के कर्मचारियों को भी इसका फायदा मिल सकता है।
होम लोन के ब्याज पर राहत को आगे बढ़ाया गया। सरकार ने हाउसिंग लोन ब्याज छूट को 21 मार्च 2022 तक बढ़ा दिया है। इससे उन लोगो को फायदा मिलेगा जो 31 मार्च, 2022 तक किफायती मकान खरीदेंगे।
सरकार ने किसानों की आय को दोगुना करने का लक्ष्य रखा है।
सोने और चांदी से कस्टम ड्यूटी को घटाया है।
राष्ट्रीय रेल योजना 2030 तैयार करने का प्रावधान किया है।
बीमा क्षेत्र में 74 फीसदी तक एफडीआई को मंजूरी दी गई है। वही जल्द ही वॉलेंट्री स्क्रैप पॉलिसी को लॉन्च किया जाएगा।
लेह में केंद्रीय विश्वविद्यालय बनाया जाएगा और अनुसूचित जाति के 4 करोड़ विद्यार्थियों को 35 हजार करोड़ रुपये दिए जाएंगे।

Budget 2021:- इन चीज़ो पर बढ़ी महंगाई

बता दें इस बार वर्ष 2021 के वित्त बजट में मोबाइल फोन, फोन के पार्ट,चार्जर, गाड़ियों के पार्ट्स, इलेक्ट्रानिक चीज़ें, इम्पोर्टेड कपड़े, सोलर इन्वर्टर, सोलर के उपकरण और कॉटन पर महंगाई की मार पड़ी है।

Budget 2021:- आम बजट 2021: ये चीज़े हुई सस्ती

पेश बजट में इस बार स्टील से बने सामान, तांबे का सामान, चमड़े से बने सामान, सोना और चांदी ये वस्तुएं सस्ती हुई है।

मोदी सरकार ने कोरोना काल में सबसे अधिक सहायता देने वाला सेक्टर यानि कि हेल्थ सेक्टर के लिए बजट में बढ़ोतरी की है और एक खास स्कीम भी चलाई है। सरकार ने बजट के जरिए आत्मनिर्भर स्वास्थ्य योजना का तोहफा देश के लोगों को दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here