पिता ने की अपनी बेटी की हत्या, कटा सिर लेकर पहुंचा पुलिस थाने, बदनामी के डर से दिया वारदात को अंजाम

उत्तर प्रदेश के हरदोई से एक सनसनीखेज खबर सामने आई है. जहां एक पिता ने बड़ी बेरहमी से अपनी बेटी का सिर गड़ासे से काट दिया. मामला हरदोई के मझिला थाना इलाके का है

पिता ने की अपनी बेटी की हत्या, कटा सिर लेकर पहुंचा पुलिस थाने, बदनामी के डर से दिया वारदात को अंजाम
पिता ने की अपनी बेटी की हत्या, कटा सिर लेकर पहुंचा पुलिस थाने, बदनामी के डर से दिया वारदात को अंजाम

(रिदम झा): उत्तर प्रदेश के हरदोई से एक सनसनीखेज खबर सामने आई है. जहां एक पिता ने बड़ी बेरहमी से अपनी बेटी का सिर गड़ासे से काट दिया. मामला हरदोई के मझिला थाना इलाके का है जहां एक पिता ने अपनी बेटी के प्रेम संबंध के चलते उसका सिर धर से अलग कर दिया. आखिर एक पिता इतना बेरहम कैसे बन सकता है तो आईए आपको बताते हैं कि क्या है पुरा मामला…

दरअसल खुनी पिता सर्वेश एक सब्जी विक्रेता है उसके तीन बच्चे हैं, सबसे बड़ी बेटी 17 वर्ष की नीलम थी. कुछ दिनों पहले, उसने अपनी बेटी को एक युवक के साथ आपत्तिजनक स्थिति में देखा था. जिसकी वजह से सर्वेश की गांव में काफी फजीहत हो रही थी. तभी उसने अपनी बेटी को सबक सिखाने के लिए अपना मन बना लिया. सर्वेश की पत्नी ने पुलिस को दिए अपने बयान में भी इस बात की पुष्टि की है. बदनामी के चलते सर्वेश ने अपनी बेटी को कई बार समझाया लेकिन नीलम नहीं मानी.

जिसकी वजह से पिता और पुत्री के बीच काफी झगड़ा भी हुआ. आखिर में जब सर्वेश की मां दुकान चली गई और उसकी पत्नी दोनों बच्चों के साथ खेत गई. इसी बीच सर्वेश ने मौका पाकर नीलम को कमरे में बंद कर कुंडी लगा दी और गड़ासे से उसकी गर्दन को काट दिया. फिर अपनी पुत्री का कटा सिर लेकर गुस्से में वह मझिला थाना पहुंचा.

जहां उसके हाथ में कटा हुआ सिर देखकर पुलिस महकामे में हड़कंप मच गया. आनन-फानन में उच्चाधिकारियों को सूचना दी गई. सूचना पाते ही कप्तान अनुराग वत्स मौके पर पहुंचे और आगे की कार्यवाही के लिए पुलिस को आवश्यक दिशा निर्देश दिए.

इसके साथ ही सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें थाने की पुलिस कांस्टेबल लड़की के सिर को पकड़ कर पुलिस स्टेशन में घूमती हुई दिख रही है. जिसके बाद आईजी लखनऊ रेंज, लक्ष्मी सिंह ने मामले पर संज्ञान लिया और महिला थाने में तैनात कांस्टेबल को निलंबित कर दिया. उन्होंने कहा कि ‘पुलिस की जिम्मेदारी कानून और व्यवस्था बनाए रखना है और अनुशासित तरीके से अपनी ड्यूटी करना है. ना की ऐसा गैर जिम्मेदाराना काम करना.’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here