यूपी में बदलाव की चर्चा के बीच सीएम योगी की PM मोदी के साथ बैठक, घंटे चली मुलाकात

उत्तर प्रदेश में उभरे असंतोष के सुरों के बीच मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ (Yogi Adityanath) ने शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) और बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा (J.P. Nadda) से मुलाकात की.

यूपी में बदलाव की चर्चा के बीच सीएम योगी की PM मोदी के साथ बैठक, घंटे चली मुलाकात
यूपी में बदलाव की चर्चा के बीच सीएम योगी की PM मोदी के साथ बैठक, घंटे चली मुलाकात

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश में उभरे असंतोष के सुरों के बीच मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ (Yogi Adityanath) ने शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) और बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा (J.P. Nadda) से मुलाकात की. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के आवास पर बैठक एक घंटे से अधिक समय तक चली। कुछ ही देर बाद योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा (J.P. Nadda) के आवास पर गए। और वहा पर उनसे भेंट की. यह बैठक डेढ़ घंटे से अधिक समय तक चली.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) से मुलाकात के बाद मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ (Yogi Adityanath) ने एक ट्वीट किया उस ट्वीट में उन्होंने लिखा, ‘आज आदरणीय प्रधानमंत्री @narendramodi जी से नई दिल्ली में शिष्टाचार भेंट एवं मार्गदर्शन प्राप्ति का सौभाग्य प्राप्त हुआ.व्यस्ततम दिनचर्या से भेंट के लिए समय प्रदान करने व आत्मीय मार्गदर्शन करने हेतु पीएम का हृदय से आभार.’

गौरतलब है क‍ि पिछले कुछ समय में योगी आदित्‍यनाथ (Yogi Adityanath) के खिलाफ असहमति के सुर उभरे हैं और कोरोना महामारी से निपटने के यूपी सरकार के प्रबंधन को लेकर भी सवाल उठे थे. गुरुवार को योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने गृह मंत्री अमित शाह के साथ 90 मिनट लंबी बैठक की। ऐसे समय जब यूपी में विधानसभा चुनाव में एक वर्ष से भी कम समय शेष है, बीजेपी का पूरा ध्‍यान पार्टी में बढ़ रहे मतभेदों को दूर करने पर केंद्रित है.

वही सूत्रों ने साफ किया है कि पार्टी मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ (Yogi Adityanath) को बदलने पर विचार नहीं कर रही लेकिन कुछ अन्‍य बदलाव किए जा सकते हैं. आज की बैठक भाजपा के वरिष्ठ नेता बीके संतोष के नेतृत्व में केंद्रीय मिशन के उत्तर प्रदेश में फीडबैक लेने और मंत्रियों, विधायकों, सांसदों व मुख्यमंत्री के साथ बैठकों में समीक्षा करने के लगभग एक सप्ताह बाद हुई है। बीजेपी के वैचारिक मागर्दर्शक राष्‍ट्रीय स्‍वयंसेवक संघ (आरएसएस) के दत्‍तात्रेय होसबोले अपनी यात्रा के दौरान कैडर में कथित तौर पर असंतोष के भाव महसूस करने बाद फीडबैक सेशन की सिफारिश की थी.

राज्य में सांसदों और विधायकों के लिए योगी की दुर्गमता और महामारी से खराब तरीके से निपटने के कारण मतभेद खुले में सामने आ रहे हैं। सूत्र बताते हैं कि सभी रिपोर्टों में यह बात प्रमुखता से कही गई कि योगी आदित्‍यनाथ (Yogi Adityanath) सभी को साथ लेकर नहीं चल पा रहे हैं. रिपोर्ट में गैर ठाकुरों (सीएम योगी इसी ठाकुर जाति से हैं) विशेषकर ब्राह्मणों के बीच असंतोष के बारे में भी जिक्र है. भगवा वस्‍त्र धारण करने वाले सीएम योगी आदित्‍यनाथ (Yogi Adityanath) को पार्टी सांसदों और विधायकों के लिए ‘पहुंच से दूर’ बताया गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here