अयोध्या: ट्रस्ट ने खरीदी जमीन, अब 70 एकड़ नहीं अब 107 एकड़ में होगा राम मंदिर परिसर

अयोध्या: उत्तर प्रदेश के अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण जारी है. श्री राम जन्मभूमि ट्रस्ट ने यह जानकारी दी है कि मंदिर 70 एकड़ के बजाए अब 107 एकड़ के क्षेत्र में बनाया जाएगा.

अयोध्या: ट्रस्ट ने खरीदी जमीन, अब 70 एकड़ नहीं अब 107 एकड़ में होगा राम मंदिर परिसर
अयोध्या: ट्रस्ट ने खरीदी जमीन, अब 70 एकड़ नहीं अब 107 एकड़ में होगा राम मंदिर परिसर

(रिदम झा), अयोध्या: उत्तर प्रदेश के अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण जारी है. श्री राम जन्मभूमि ट्रस्ट ने यह जानकारी दी है कि मंदिर 70 एकड़ के बजाए अब 107 एकड़ के क्षेत्र में बनाया जाएगा. श्री राम जन्मभूमि ट्रस्ट ने श्री राम जन्मभूमि परिसर के आसपास 7285 स्क्वायर फीट जमीन खरीदी है. मंदिर का निर्माण कर रहे श्री राम जन्मभूमि ट्रस्ट ने 1,373 रुपये प्रति वर्ग फुट की दर से एक करोड़ रुपये में 7,285 वर्ग फुट जमीन को खरीदा है. जिससे राम मंदिर परिसर को भव्य और विशाल रूप में बनाया जा सके. पहले ये जगह सिर्फ 70 एकड़ की थी. जिसके बाद अब राम मंदिर परिसर का निर्माण 107 एकड़ में किया जाएगा.

राम मंदिर के निर्माण के लिए जगह पड़ रही थी कम
वहीं श्री राम जन्मभूमि ट्रस्ट के न्यासी अनिल मिश्रा ने कहा, ‘हमने यह जमीन खरीदी है क्योंकि राम मंदिर के निर्माण के लिए हमें और जगह चाहिए थी.’ बता दे कि जिस जमीन को ट्रस्ट ने खरीदा है वह जमीन अशरफी भवन के पास स्थित है.

7,285 वर्ग फुट जमीन के लिए 20 फरवरी को हुए थे हस्ताक्षर
बता दे कि फैजाबाद के उप-पंजीयक एसबी सिंह के कार्यालय में यह रजिस्ट्री की गई थी. एसबी सिंह ने बताया कि जमीन के मालिक दीप नरैन ने ट्रस्ट के सचिव चंपत राय के पक्ष में 7,285 वर्ग फुट भूमि की रजिस्ट्री दस्तावेजों पर 20 फरवरी को हस्ताक्षर किए है. जिसके बाद मिश्रा और अपना दल के विधायक इंद्र प्रताप तिवारी ने गवाह के तौर पर उन दस्तावेजों पर हस्ताक्षर भी किए है.

अभी और जमीन खरीदना  चाहती है श्री राम जन्मभूमि ट्रस्ट
सूत्रों के हवाले से मिल रही जानकारी के अनुसार श्री राम जन्मभूमि ट्रस्ट अभी और जमीन खरीदना चाहति है. राम मंदिर परिसर के पास मंदिरों, मकानों और खाली मैदानों के मालिकों से इस बारे में बातचीत की जा रही है.

बाकी जमीन पर म्यूजियम, लाइब्रेरी जैसे केन्द्र का भी होगा निर्माण
आपको बता दें कि राम जन्मभूमि परिसर का निर्माण करीब पांच एकड़ में किया जाएगा, जिसमें रामलला का मंदिर बनेगा. इसके अलावा बाकी जमीन पर अन्य कई मंदिर बनेंगे, म्यूजियम, लाइब्रेरी जैसे स्थानों का भी निर्माण करवाया जाएगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here